माही ने एक बार फिर अपने अनोखे अंदाज से फैंस का जीता दिल

courtesy-post.jagran

कोलकाता में धोनी बन गए बाबू मोशाय बंदूकबाज विराट के शॉर्प शूटर की मैच से पहले धांय-धांय शॉर्प शूटर के निशाने पर स्मिथ एंड कंपनी बाबू मोशाय ने अपनी बंदूक से एक तीर से किए कई शिकार बंदूकबाज का पिस्टल से दे दनादन बल्ले और गल्व्स की जगह बंदूक से बाबू मोशाय धोनी का बिग शो।

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी दुनिया भर में अपनी अलग पहचान बना चुके है। क्रिकेट के कई बड़े रिकॉर्ड धोनी के नाम है । 36 साल के माही आज भी क्रिकेट के मैदान पर बिजली वाली रफ्तार से स्टंप उड़ाने का दम रखते हैं। धोनी के बल्ले से लगने के बाद गेंद गोली की रफ्तार से बाउंड्री के पार चली जाती है। लेकिन इस बार माही ने सच में ताबड़तोड़ गोलियां चलाकर फैंस का दिल जीत लिया।

courtesy-Pinterest

कोलकाता पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि धोनी ने निशानेबाजी के अलावा पुलिस के जवानों से भी बात की, और उनका हौसला बढ़ाया । पुलिस ट्रेनिंग स्कूल के शूटिंग रेंज में धोनी ने 10 और 25 रेंज के दोनों शॉट में निशानेबाजी का अभ्यास किया। साल 2008 में बीएसएफ के शूटिंग रेंज में भी धोनी ने जमकर बंदूक से धांय-धांय की थी।

क्रिकेट के साथ-साथ धोनी को बंदूक चलाने का भी शौक है। और अपने इस शौक को पूरा करने के लिए बंदूकबाज बनने के लिए हरदम तैयार रहते है