चेन्नई वनडे में हार्दिक पांड्या ने कंगारु गेंदबाजों को किया चित

Patrika

एक के बाद एक छक्के से पांड्या ने चेन्नई में धूम मचा दी। पांड्या की इस बल्लेबाजी को देखने के बाद हर किसी के जहन में पाक के खिलाफ चैपियंस ट्रॉफी का फाइनल मैच याद आ गया।

टीम इंडिया के टॉप बल्लेबाज जहां ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के आगे सरेंडर कर दिया वही हार्दिक पांड्या ने कंगारुओं के आगे सरेंडर करने की बजाय पिटने का प्लान बनाया। पांड्या ने कंगारु गेंदबाजों की ऐसी पिटाई की जिसे देखकर किसी के समझ में कुछ भी नहीं आ रहा है।

स्पोर्ट्सकीड़ा हिन्दी

हिंदुस्तान को ‘हार्दिक’ बधाई

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पांड्या का ये वनडे में पहला एनकाउंटर था । लेकिन कही से ये नहीं लग रहा था कि पांड्या ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली बार खेल रहे हैं। पांड्या की बल्लेबाजी में ताकत के साथ साथ तकनीक का कॉकटेल भी नजर आया ।

दूसरे छोर पर एम एस धोनी लगातार पांड्या को गाइड कर रहे थे। और पांड्या धोनी की देख रेख में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना दम दिखा रहे थे। पांड्या ने अपनी इस पारी के बाद एक बार फिर ये साबित कर दिया कि वो कप्तान विराट कोहली का फेवरेट खिलाड़ी क्यों हैं। पांड्या अपने आप में एक बेहतर खिलाड़ी हैं।

शुरुआत में ये कहा जा रहा था कि पांड्या पिंच हिटर हैं, लेकिन वनडे – टेस्ट और टी 20 में एक के बाद एक अपनी पारियों से पांड्या ने साबित कर दिया कि वो पिंच हिटर नहीं बल्कि बड़े बल्लेबाज हैं। जो आने वाले समय में टीम इंडिया के लिए वरदान साबित होंगे। चेन्नई में पांड्या की ये पारी शानदार है, जबरदस्त है। पांड्या की जितनी तारीफ की जाए कम होगी।