ये है 112 साल का ‘नौजवान’ जो मौत को दे रहा है मात, जानिए इसकी लंबी उम्र का राज़

masazo-nonaka
masazo-nonaka

टोक्यो. लंबी उम्र कौन नहीं चाहता! स्वस्थ और दीर्घ जीवन के लिए लोग कई बातों का ध्यान रखते हैं। कसरत और संतुलित भोजन को भी लंबी उम्र के लिए बहुत जरूरी समझा जाता है। आज हम आपको दुनिया के सबसे बुजुर्ग शख्स के बारे में बताएंगे। साथ ही आपको उनकी लंबी उम्र का वो राज़ भी मालूम होगा जिसकी बदौलत वे अब तक मौत मात देते आए हैं।

1. आमतौर पर जब सबसे बुजुर्ग शख्स का जिक्र होता है तो हमारे जेहन में जापान का नाम आता है। आपने सही पहचाना, जिस बुजुर्ग शख्स का हम जिक्र कर रहे हैं वे भी जापान से ही हैं। उनका नाम मसाजो नोनका है। उनसे पहले स्पेन के फ्रांसिस्को नूनेज़ ओलिवरा के नाम दुनिया के सबसे बुजुर्ग शख्स का रिकॉर्ड था। ओलिवरा का निधन होने के बाद अब मसाजो दुनिया के सबसे बुजुर्ग शख्स हैं।

2. दस्तावेजों के अनुसार, मसाजो की उम्र 112 साल, 259 दिन है। उनके शरीर पर उम्र का असर तो है लेकिन आज भी वे काफी सक्रिय हैं। लोग उन्हें 112 साल का नौजवान कहते हैं। मसाजो के पड़ोसी कहते हैं कि वे खास दिनचर्या के कारण अब तक मौत ​को मात देते आए हैं। गिनीज रिकॉर्ड्स ने भी उनका सम्मान किया। इस मौके पर मसाजो को उपाधि भेंट की गई। साथ ही एक बड़ा केक काटकर खुशियां मनाई गईं।

3. मसाजो के परिजन बताते हैं कि वे हॉट बाथ लेते हैं। यही उनकी सेहत का राज है। इसके अलावा हरी सब्जियां भी खूब खाते हैं। उन्हें मिठाई पसंद है। दस्तावेजों के अनुसार, मसाजो का जन्म 25 दिसबंर 1905 को हुआ था। 112 साल का होने के बावजूद उनकी आंखें पूरी तरह दुरुस्त हैं। वे रोज अखबार पढ़ते हैं और देश—दुनिया में होने वाली घटनाओं पर नजर रखते हैं।

4. गौरतलब है कि जापान में कई लोग सौ साल से ज्यादा उम्र के हैं। इसके लिए मुख्य वजह वहां का खानपान, जलवायु और जीवनशैली को माना जाता है। जापान सरकार ने स्वास्थ्य सेवाओं में खूब सुधार किया है। इसके ​अलावा वहां के लोग प्रकृति से बहुत प्रेम करते हैं। शहरीकरण के बावजूद खूब पौधे लगाए जाते हैं। शिक्षा का स्तर भी बेहतर है। इसलिए जापान में शतायु बुजुर्गों की काफी तादाद है।

अगर आपको हमारी ख़बरें पसंद आईं तो हमें इस पेटीएम नंबर पर कुछ योगदान करें – 9695059039