Video: उसने सांप को पकड़ा, दांतों से सिर काटा और खून पीकर कच्चा चबा गया

king cobra
king cobra

जकार्ता. हर देश अपने सैनिकों की ट्रेनिंग को बेहतर बनाना चाहता है। खासतौर पर कमांडो को बेहद सख्त प्रशिक्षण दिया जाता है क्योंकि उनसे चुनिंदा मिशन में बहुत जल्द अच्छे नतीजों की आशा की जाती है। इसलिए कमांडो को विशेष प्रशिक्षण दिया जाता है जिसमें वे विपरीत हालात में जीना सीख जाते हैं। इंडोनेशिया के कमांडो की ट्रेनिंग कुछ ऐसी होती है कि उन्हें सख्त जिंदगी जीने के साथ ही ऐसा भोजना भी करना पड़ता है जिसका नाम लेते ही कई लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं।

1. इंडोनेशिया के कमांडो को फुर्ती और बहादुरी की ट्रेनिंग के साथ ही सांप खाने की ट्रेनिंग भी दी जाती है। जी हां, आपने बिल्कुल सही पढ़ा। इंडोनेशिया के कमांडो जरूरत पड़ने पर सांप तक को चबा जाते हैं। वे उसका खून पीकर प्यास बुझाते हैं और शरीर को किसी रोटी की तरह चबा जाते हैं। ऐसा क्यों? दरअसल इस ट्रेनिंग के जरिए इंडोनेशिया अपने कमांडो को खास मौकों के लिए तैयार करता है।

2. कई बार युद्ध के मैदान में या विशेष मिशन के दौरान रसद पहुंचने में देर हो सकती है। ऐसे में शरीर का ऊर्जावान रहना बहुत जरूरी है, वरना दुश्मन उन पर भारी पड़ सकता है। इसलिए इंडोनेशिया कमांडो की ट्रेनिंग में इस बात को खासतौर पर शामिल करता है ताकि जरूरत पड़ने पर उनके जांबाज सांप तक को खाकर अपना पेट भर लें।

3. इंटरनेट पर इंडोनेशियाई कमांडो के ऐसे कई वीडियो मौजूद हैं जिनमें वे बेखौफ होकर सांप को हाथ में पकड़ते हैं। फिर वे उसका सिर काट देते हैं। इसके बाद देखते ही देखते वे सांप का खून पी जाते हैं और उसके गोश्त को खाकर भूख मिटा लेते हैं। हर साल यहां के जकार्ता शहर में होने वाले सैन्य अभ्यास में कमांडो सांप खाने का यह करतब जरूर दिखाते हैं। लोगों का मानना है कि इससे उनकी बहादुरी और विषम परिस्थितियों में मुकाबला करने की क्षमता का पता चलता है।

अगर आपको हमारी ख़बरें पसंद आईं तो हमें इस पेटीएम नंबर पर कुछ योगदान करें – 9695059039