अजूबा है यह देश, यहां पॉर्न देखा तो खैर नहीं, मार दी जाएगी गोली!

watching movie
watching movie

दुनिया के हर देश में कुछ कानून-कायदे होते हैं जिनसे वहां का शासन चलता है। 21वीं सदी में ज्यादातर देश लोकतंत्र को अपना चुके हैं, लेकिन आज भी ऐसे कई इलाके हैं जहां तानाशाही चलती है। तानाशाही अपने साथ कई बंदिशें लेकर आती हैं। पिछले करीब एक साल से उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन और उनके बनाए कुछ अजीब कानून काफी चर्चा में हैं। जानिए उत्तर कोरिया के उन उटपटांग नियमों के बारे में जिसके बाद आप वहां न जाने की कसम खा लेंगे।

1. उत्तर कोरिया में किम जोंग उन और पूर्व शासकों के बारे में लोग ज्यादा बात नहीं करते। क्या पता कब कौनसी बात सत्ता को बुरी लगे और वह शख्स फांसी पर टांग दिया जाए! हालांकि उत्तर कोरिया से फांसी की खबरें कम ही आती हैं, क्योंकि उधर गोली मारने की परंपरा को खासा पसंद किया जाता है।

2. अपने मोबाइल फोन या टीवी पर कौन क्या देख रहा है, यह बेहद निजी मसला है, लेकिन उत्तर कोरिया में आप ऐसा करने से पहले कम से कम हजार बार सोच लें। वहां के कानून के मुताबिक, अगर किसी के पास पॉर्न फिल्म पाई गई तो उसकी खैर नहीं। उसे मृत्युदंड मिलने से कोई नहीं रोक सकता।

3. जब हम बाल कटाने जाते हैं तो यह हमारी मर्जी पर निर्भर करता है कि किस स्टाइल में कटाएं, पर उत्तर कोरिया के लोगों को यह आजादी भी नसीब नहीं। वहां महिलाओं के लिए 28 और पुरुषों के लिए 10 प्रकार के हेयर स्टाइल तय किए गए हैं। अगर इनसे अलग कोई स्टाइल अपना लिया तो समझें कि कोई मुसीबत आने वाली है।

north korean women
north korean women

4. अपराध के लिए हर देश अपने तौर-तरीकों से सजा देता है, उत्तर कोरिया भी देता है, पर वहां की सजा के बारे में सुनकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे। दूसरे देशों में जहां अपराध की सजा अपराधी को ही मिलती है, वहीं उत्तर कोरिया में यह सजा उसके बेटे और पोते को भी भुगतनी पड़ सकती है।

5. कहने को तो उत्तर कोरिया में लोकतंत्र है। वहां तय समय पर चुनाव होते हैं और लोग अपना प्रतिनिधि चुनते हैं। फिर यह सवाल उठना स्वाभाविक है कि इन सबके बावजूद उत्तर कोरिया में तानाशाही क्यों है? इसका जवाब बहुत आसान है। दरअसल वहां चुनाव तो होते हैं, लोग वोट भी देते हैं लेकिन उम्मीदवार सिर्फ एक ही खड़ा होता है। ​उसका नाम है – किम जोंग उन।