यूपी में गधों को किया गया गिरफ्तार, किया था ये अपराध

यूपी के उरई में गधों को जेल भेजे जाने का एक मामला सामने आया है. कारागार परिसर में लगाए गए पेड़ पौधों को चरने के जुर्म में दो घोड़ों और दो गघों के गिरफ्तार कर तीन दिन तक जेल में बंद रखा गया.

जिला जेल के अधीक्षक ने कारागार परिसर में साज-सज्जा के लिये लगाये गये पेड़-पौधो को चरने को लेकर दो घोड़ों और दो गधों को तीन दिन तक जेल में बंद रखा. उनके मालिक के आने पर उन्हें छोड़ दिया गया.

इस संबंध में जेल अधीक्षक तुलसी राम शर्मा ने दावा किया, ‘‘जेल के सौंदर्यीकरण के लिये कई तरह के पेड़-पौधे परिसर में लगाये गये हैं. लेकिन इन घोड़ों और गधों ने उन्हें नुकसान पहुंचाया, तो मैंने इन्हें जेल में बंद कर दिया.’’

इस घटना के बाद कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर हुईं तो लोगों ने इसके बहाने पुलिस की कार्रवाई का मजाक बनाया. वहीं इस मामले पर उरई जिला जेल के हेड कॉन्स्टेबल आरके मिश्रा ने कहा कि इन गधों ने जेल के बाहर रखे कई महंगे पेड़ों को नुकसान पहुंचाया था.

उन्होंने कहा कि इन गधों के मालिक को चेतावनी दी गई थी कि वह इन्हें खुले में ना छोड़े लेकिन जब उसने ये बात नहीं सुनी तो हम इन्हें पकड़कर थाने ले आए.