यहां बाजार से गायब हुआ 2000 का नोट, साजिश या कोई बड़ा प्लान?

2000 currency notes
2000 currency notes

नई दिल्ली. नोटबंदी के बाद से 2,000 रुपए के नोट को लेकर कई अटकलें लगाई जाती रही हैं। एक बार यह भी अफवाह उड़ी थी कि जल्द यह नोट बंद हो सकता है जिसका सरकार ने खंडन किया था। अब ए​क बार फिर 2,000 रुपए का नोट चर्चा में है। देश में कई स्थानों पर 2,000 रुपए के नोटों की कमी आ गई है। ऐसे में यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि क्या कालेधन के कारोबारियों ने इस नोट को भी अपनी तिजोरियों में बंद कर लिया।

1. इस बीच यह भी चर्चा है कि रिजर्व बैंक ने नोटों की सप्लाई कम कर दी है। माना जा रहा है कि संभवत: ऐसा डिजिटल लेन-देन का बढ़ावा देने के लिए किया जा रहा है। खासतौर पर मध्यप्रदेश, बिहार और गुजरात में लोगों को इन नोटों की कमी का सामना करना पड़ रहा है।

2. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसके पीछे किसी साजिश की आशंका जाहिर की है। उन्होंने जांच का आश्वासन दिया है। विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स में यह कहा गया है कि बैंक शाखाओं व करंसी चेस्ट में इन नोटों की आपूर्ति कम हो रही है। इस वजह से बाजार में 2,000 के नोट कम संख्या में पहुंच रहे हैं।

3. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कुछ लोग इन नोटों को दबाकर बैठ गए हैं ताकि देश में नकदी की कमी आए। ऐसा साजिश के तहत किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि नोटबंदी के वकत 15 लाख करोड़ रुपए के नोट बाजार में थे। वहीं 16.5 लाख करोड़ रुपए के नोट बाजार में भेजे गए हैं। ऐसे में 2,000 के नोटों की संख्या कम होना षड्यंत्र है।

4. उन्होंने कहा, यह षड्यंत्र इसलिए किया जा रहा है, ताकि दिक्कतें पैदा हो। .. इससे राज्य सरकार निपटेगी। .. इस संबंध में हम केंद्र से भी बात कर रहे हैं। वहीं आरबीआई ने इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है।

अगर आपको हमारी ख़बरें पसंद आईं तो हमें इस पेटीएम नंबर पर कुछ योगदान करें – 9695059039